शिक्षा/रोज़गार

अमुवि के पूर्व छात्र और लेखक डाॅ॰ जसीम मोहम्मद ने अपनी पुस्तक सर सैयद स्पीक्स एम0ए0 लाईब्रेरी को भेंट की

अलीगढ 5.6.2017ः अमुवि के पूर्व छात्र, लेखक और सामाजिक कार्यकर्ता डाॅ॰ जसीम मोहम्मद ने अपनी संकलित एवं सम्पादित पुस्तक सर सैयद स्पीक्स की दस प्रतियाँ मौलाना आज़ाद लाईब्रेरी, अलीगढ़ मुस्ल्मि विश्वविद्यालय को भेंट की।

डाॅ॰ जसीम मोहम्मद द्वारा अपनी पुस्तक सर सैयद स्पीक्स भेंट करना दर्शाता है किे वे यूवा वर्ग के सर सैयद ज्ञान को बढ़ाना चाहते हैंः डाॅ0 नबी हसनहमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए क्लिक करें

इस सम्बन्ध में डाॅ॰ जसीम मोहम्मद ने बताया कि उन्होंने अपनी संकलित एवं सम्पादित पुस्तक सर सैयद स्पीक्स की दस प्रतियाँ आज अमुवि के मौलाना आज़ाद लाईब्रेरी के लाईब्ररियन डाॅ॰ नबी हसन को भेंट की ताकि छात्र-छात्रायें उन्हें पढ़कर सर सैयद से प्रेरणा ले सके। उन्होंने बताया कि सर सैयद स्पीक्स में स्वयं सर सैयद के शिक्षा तथा सामाजिक विषयों पर टिप्पणियाँ संकलित हैं। उन्होंने कहा कि सर सैयद ने अपने शौक्षिक आन्दोलन के द्वारा मुस्लिम समाज मे जाग्रति पैदा की और इसलिए हमारे युवा वर्ग को उनका ज्ञान होना चाहिए।

डाॅ॰ जसीम मोहम्मद द्वारा भंेट की गई सर सैयद स्पीक्स की प्रतियाँ स्वीकार करते हुए एम0ए0 लाईब्रेरी के लाईब्रेरियन डाॅ0 नबी हसन ने कहा कि डाॅ0 जसीम मोहम्मद हमारे यूवा वर्ग को सर सैयद के विचारों से अवगत कराकर एक महान कार्य कर रहे हैं उन्होंने कहा कि डाॅ0 जसीम मोहम्मद द्वारा सर सैयद स्पीक्स पुस्तक की प्रतियाँ भेंट करना दर्शाता है कि वे सर सैयद के सपनों को साकार करना चाहते हैं। डाॅ0 जसीम मोहम्मद को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए डाॅ0 नवी हसन ने कहा कि लाईब्रेरी ज्ञान का भण्डार है और लाईब्रेरी को पुस्तकें भेंट करना एक मानव हितकारी कार्य है।

विदित हो कि डाॅ0 जसीम मोहम्मद ने सर सैयद अहमद खान और अन्य विषयों पर कई पुस्तकें लिखी अथवा सम्पादित की है। पूर्व मे भी वे एम0ए0 लाईब्रेरी को सर सैयद अहमद खान पर पुस्तकें भेंट कर चुके हैं।

डाॅ0 जसीम मोहम्मद

Comments

comments

Most Popular

To Top