समाचार

लगातार दूसरे दिन मेरठ समेत पश्चिमी उत्तर प्रदेश में घना कोहरा

सूबे के पश्चिमी उत्तर प्रदेश में लगातार दूसरे दिन बुधवार को भी घना कोहरा देखा गया, जिससे सड़कों पर आवाजाही के दौरान लोगों को कम विजिबिलटी के कारण मुश्किलों का सामना करना पड़ा.  इनमें मेरठ, गाजियाबाद, मुजफ्फरनगर, शामली और हापुड़ जिले में शामिल हैं, जहां रात से ही घने कोहरे की रिपोर्ट दर्ज की गई थी और सुबह होते-होते कोहरा सफेद चादर सी  फैल गई.

रिपोर्ट के मुताबिक घने कोहरे के चलते पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लगभग सभी जिलों में सड़कों पर गाड़ियां रेंगती नज़र आईं. वहीं, राजमार्गो पर कोहरे के चलते वाहनों के पहिए लगभग थमे ही रही. दूसरी तरफ रेल यातायात भी प्रभावित हुआ, जिससे अधिकांश ट्रेनें अपने समय से लेट चल रही हैं. इस दौरान सुबह के न्यूनतम तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई जबकि रात का तापमान 14-15 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गयाय

गौरतलब है मंगलवार को दिन में धूप भी न के बराबर रही. माना जा रहा है कि फॉग नहीं, बल्कि स्मोग है, जो भारी प्रदुषण की वजह से फैल रहा है. हालांकि इसके मद्देनजर एनजीटी ने दिल्ली-एनसीआर के लिए अर्लट भी जारी किया था और दिल्ली और आसपास के शहरों में सभी स्कूल-कॉलेजो को बंद रखा गया है.हमारा फेसबुक पेज लाइक कीजिये

बताया जाता है घने कोहरे के चलते एहतियातन गाजियाबाद, हापुड़ और बुलंदशहर जिले के स्कूलों को बंद कर दिया गया है जबकि मेरठ जिले के सभी स्कूल और कॉलेज और दिनों की तरह खुले रहे. मौसम विभाग की मानें तो अभी कोहरा एक-दो दिनों तक लोगों को परेशान करता रहेगा.

Comments

comments

Most Popular

To Top