लेख/मंथन

​देशभर में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) की विश्वसनीयता की निष्पक्ष जांच हो: चौधरी जावेद अहमद खान

सांथा- संत कबीर नगर: ​देशभर में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) की विश्वसनीयता पर लगातार सवाल खड़े हो रहे हैं लेकिन चुनाव आयोग निष्पक्ष जांच कराने के बजाए टाल-मटोल करने में ज्यादा वक्त लगा रहा है।

विपक्ष आंदोलन कर चुका है। आगे भी आंदोलन करने की लगातार चैतावनी दे रहा है। दिल्ली विधानसभा में लोकतंत्र के खतरे पर एक विशेष सत्र भी लगाया जा चुका है।

जिसमें लाइव ईवीएम हैकिंग करके भी बता दिया गया। फिर भी लोकतंत्र के चोरी होने के खतरें पर चुनाव आयोग खामोश है।
सोशल मीडिया पर तमाम सवालों के बाद लोग अब सवाल करने लगे है कि, क्या अब जब खुद ईवीएम आकर छेड़खानी होनी की बात रखेगी तभी चुनाव आयोग जांच कराएगा !
क्योंकि लगातार सबूत और तथ्यों को नजरअंदाज कर चुनाव आयोग ईवीएम से ही चुनाव कराने पर अड़ा हुआ है।
आपको बता दें कि, ईवीएम मशीनों की विश्वसनियता खतरें में है। तमाम राजनीतिक दल बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग कर रहे हैं।
ईवीएम के खिलाफ चलाए जा रहे आंदोलन का उपहास करने के बजाय आंदोलन चलाने वालों का सहयोग करें यही समय की मांग है।

जिसने समय का ध्यान नहीं दिया समय उसका ध्यान नहीं देता इसलिए ईवीएम हटाओ लोकतंत्र लाओ और देश बचाओ।

चौधरी जावेद अहमद खान बहुजन मुक्ति पार्टी संतकबीरनगर

Comments

comments

Most Popular

To Top